• यात्रा अवधि
    14 दिन
  • यात्रा प्रारम्भ
    काठमांडू
  • यात्रा समाप्ति
    काठमांडू
  • यात्रा प्रकार
    समूह में
  • यात्रा खर्च
    रु 145000 से आरंभ

काठमांडू से बस द्वारा कैलाश मानसरोवर यात्रा

हिन्दू और जैन धर्म में सबसे पवित्र माने जाने वाली कैलाश मानसरोवर यात्रा एक और तो भगवान शिव का निवास स्थान माना गया है तो दूसरी तरफ कैलाश पर्वत पर स्थित अष्टपद पर्वत जैन धर्म का उद्गम स्थल भी है I ऐसी मान्यता है की कैलाश मानसरोवर की यात्रा करने से मनुष्य को मुक्ति प्राप्त होती है I दुनिया भर से श्रद्धालु प्रति वर्ष भरपूर उत्साह और श्रद्धा के साथ कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए आते है और प्रभु के दर्शनों का आनंद लेते है I

कैलाश जाने के लिए वैसे तो कई मार्ग है जिनमे से काठमांडू से हो कर जाने वाला सड़क मार्ग सबसे सरल और सस्ता माना गया है I काठमांडू (नेपाल) से चलकर केरुंग और सागा (चीन) के रास्ते मानसरोवर झील और कैलाश पर्वत जाने वाला ये रास्ता अधिकतर यात्री बस या जीप द्वारा पूरा करते है I बस अथवा जीप के रास्ते कैलाश पर्वत की तलहटी तक का सफर तय करने के पश्चात् यम द्वार से श्रद्धालु तीन दिन लम्बी और दुर्गम कैलाश पर्वत परिक्रमा संपन्न कर वापिस सागा और केरुंग के रास्ते काठमांडू वापिस आते है I इस प्रकार काठमांडू मार्ग द्वारा सड़क मार्ग से यात्रा संपन्न की जाती है I


कैलाश मानसरोवर ओवरलैंड यात्रा कार्यक्रम
01 दिन

काठमांडू आगमन

अपनी बस द्वारा की जाने वाली कैलाश मानसरोवर यात्रा के शुभाररम्भ के लिए आप आज काठमांडू के त्रिभुवन अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचे, हवाई अड्डे पर आपकी प्रतीक्षा कर रहे मैक्स हॉलीडेज के नेपाल कर्मी दल के सदस्य आपका विनम्रता से स्वागत कर आपको होटल ले जायेंगे , होटल में आज रात आपके लिए शाकाहारी भोजन और विश्राम की व्यवस्था की जाएगी
02 दिन

काठमांडू दर्शन

सुबह यात्रा का आरम्भ भगवन पशुपतिनाथ के दर्शनों से किया जायेगा , आज हमारे नेपाल कर्मीदल के सदस्य आपके मंदिरों के दर्शन की व्यवस्था करेंगे , पशुपतिनाथ मंदिर में पूजा अर्चना कर एवं प्रभु शिव का आशीर्वाद प्राप्त कर आप जल नारायण प्रभु विष्णु के दर्शन करेंगे , तत्पश्चात दिन का कुछ समय आपकी निजी गतिविधियों एवं कैलाश मानसरोवर यात्रा की तैयारियों के लिए रहेगा , रात के भोजन से पूर्व हमारे अधिकारीगण होटल में यात्रा पर जा रहे सभी भक्तो के मिलने और आप सबको यात्रा सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी देने की व्यवस्था करेंगे ,
03 दिन

काठमांडू से सयाब्रुबेसी

सुबह जल्दी नास्ता करके यात्रिओं का जत्था बस द्वारा शयाब्रुबेसी के लिए रवाना होगा , शयाब्रुबेसी सीमा पर स्थित नेपाल का एक छोटा और प्रमुख शहर चीन के उस राजमार्ग से मिलता है जो श्रद्धालुओं और पर्यटकों को मानसरोवर झील से होते हुए श्री कैलाश पर्वत ले जाता है , काठमांडू से शयाब्रुबेसी का रास्ता केवल 122 किलोमीटर ही है परन्तु यह रास्ता दुर्गम है और रास्ते में भूस्खलन एक बहुत ही सामान्य बात है जिसके कारन सयाब्रुबेसी पहुंचने में 6-8 घंटे से ज्यादा का समय भी लग सकता है I
04 दिन

रसवागढ़ी से केरुंग

सुबह का नास्ता कर हम जल्दी ही नेपाल-चीन सीमा पर स्थित रसवागढ़ी के लिए रवाना होंगे , करीब १५ किलोमीटर का यह रास्ता एक घंटे में पार कर हम सीमा शुल्क एवं अन्य औपचारिकताओं को पूर्ण कर चीन स्थित शहर केरुंग के लिए रवाना होंगे , केरुंग हमारा आज की रात का गंतव्य स्थल है जहाँ यात्रीगण न केवल विश्राम करेंगे बल्कि खुद को ऊँचे पर्वतीय स्थल की जलवायु के अनुकूल ढालेंगे
05 दिन

केरुंग से सागा / डोंगबा

आज का दिन केरुंग में वातावरण के अनुकूल खुद को ढालने के लिए रखा गया है, आप केरुंग में टहल सकते है, वह के बाजार में घूमने का आनंद के सकते है अथवा ट्रैकिंग का अभ्यास करके खुद को कैलाश पर्वत की ट्रैकिंग के लिए तैयार कर सकते है , यदि सभी यात्रियों का स्वस्थ्य सही रहा तो चीनी गाइड से सलाह करके पुरे जत्थे को सुबह ही अगले गंतव्य सागा या डोंगबा ले जा सकते है ,
06 दिन

डोंगबा / सागा से मानसरोवर झील

सुबह का नाश्ता करके आज यात्री मानसरोवर झील के लिए प्रस्थान करेंगे , रास्ते में मानसरोवर पहुंचने से पूर्व कैलाश पर्वत की पहली झलक मिलेगी , मानसरोवर से पूर्व चेक पोस्ट पर कुछ औपचारिकताओं का निर्वाह कर हम मानसरोवर झील के पास स्थित अतिथि गृह (गेस्टहॉउस) पहुंचेंगे, रात को विश्राम करने और भोजन करने की सब व्यवस्था हमारे कर्मीदल करेंगे
07 दिन

मानसरोवर झील से दारचेन

मानसरोवर झील में पूजा अर्चना एवं स्नान के उपरान्त यात्रियों का जत्था कैलाश पर्वत की तलहटी में स्थित दारचेन शहर के लिए रवाना होगा , मानसरोवर झील की परिक्रमा करते हुए बस यात्रियों को राक्षस ताल नामक झील के समीप ले कर आती है जहा से झील और कैलाश पर्वत का मनमोहक दृश्य प्राप्त होता है , कुछ समय यहाँ बिताने के पश्चात जत्था दारचेन के लिए रवाना होगा, दारचेन के होटल में रात के विश्राम और भोजन की उपयुक्त व्यवस्था की जाएगी
08 दिन

दारचेन से यम द्वार, कैलाश परिक्रमा का पहला दिन

आज कैलाश पर्वत की परिक्रमा का पहला दिन है, सुबह बस यात्रियों को दारचेन से ७ किलोमीटर दूर स्थित यम द्वार (मोक्ष द्वार) ले जाएगी जो कैलाश पर्वत की परिक्रमा के लिए ट्रैकिंग शुरू करने का स्थान है याम द्वार से यात्री पैदल अथवा घोड़े से अपनी परिक्रमा शुरू करेंगे , १२ किलोमीटर की परिक्रमा ३-५ घंटे अथवा अधिक समय में संपन्न की जाती है , आज की ट्रैकिंग का गंतव्य स्थान धीरापुख है जो इस सम्पूर्ण यात्रा में एक अत्यंत महत्वपूर्ण, सुन्दर और धार्मिक दृष्टि से पवित्र स्थल है , धीरपुख से कैलाश पर्वत उत्तर मुख के अत्यंत समीप दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त होता है जो की अत्यंत सुखदायी एवं मोहक होता है , रात को सोने और भोजन की व्यवस्था गेस्टहॉउस में की जाएगी
09 दिन

धीरापुख से जुथुलपुख परिक्रमा, परिक्रमा का दूसरा दिन

सुबह जल्दी उठ के स्वर्णिम कैलाश (गोल्डन कैलाश) के दर्शन करना न भूलें, सूर्य की प्रथम किराम के साथ रंग बदलते हैलाश पर्वत के दर्शन दुर्लभ है और सौभाग्य वालों को ही यह अवसर प्राप्त होता है, नाश्ते के पश्चात यात्रियों का जत्था कैलाश पर्वत की दूसरे दिन की परिक्रमा के लिए रवाना होगा , कैलाश मानसरोवर यात्रा का यह सबसे कठिन और लम्बा रास्ता है , २२ किलोमीटर की परिक्रमा के दौरान कैलाश परिक्रमा के सबसे ऊँचे स्थान डोलमा ला को पार करना अत्यंत दुर्गम माना गया है , पथरीले और ऊँचे नीचे रास्तों से होते हुए यह रास्ता आपको गौरी कुंड के दुर्लभ दर्शन करता है , गौरी कुंड के दर्शनों के उपरान्त यात्री अपने आज के गंतव्य स्थल जुथुलपुख के लिए रवाना हो जायेंगे जहाँ रात के भोजन और विश्राम की व्यवस्था की जाएगी
10 दिन

जुथुलपुख से दारचेन, परिक्रमा का तीसरा दिन

सुबह के नास्ते के पश्चात जत्था वापिस दारचेन पहुंचने के लिए ट्रैकिंग आरम्भ करेगा , ८ किलोमीटर की परिक्रमा के उपरांत यात्रीजन दारचेन पहुंचेंगे जहाँ से बस द्वारा सागा के लिए प्रस्थान करने की व्यवस्था होगी, रात का भोजन और विश्राम डोंगबा या सागा में की जाएगी
11 दिन

डोंगबा / सागा से केरुंग

नाश्ते के उपरान्त जत्था केरुंग के लिए रवाना हो जायेगा जहाँ रात को ठहरने और भोजन की व्यवस्था की जाएगी
12 दिन

केरुंग से काठमांडू

नाश्ते के पश्चात जत्था चीनी सीमा को पार कर नेपाल पहुंचेगा जहा से नेपाल बस द्वारा काठमांडू की यात्रा संपन्न की जाएगी , रात का भोजन और विश्राम काठमांडू के होटल में होगा
13 दिन

काठमांडू से प्रस्थान

कैलाश मानसरोवर की यात्रा संपन्न कर नाश्ते के पश्चात् आज आप काठमांडू त्रिभुवन एयरपोर्ट से अपने अगले गंतव्य के लिए प्रस्थान करेंगे


यात्रा खर्च - काठमांडू से बस द्वारा कैलाश मानसरोवर
राष्ट्रीयता यात्रा खर्च अन्य शुल्क
भारतीय रु 145,000 चीनी वीज़ा - पैकेज की लागत में शामिल
तिब्बत प्रवेश पत्र - पैकेज की लागत में शामिल
नेपाल वीज़ा - जरूरत नहीं है
यात्रा बीमा - उम्र के अनुसार अतिरिक्त
अनिवासी भारतीय (NRI) USD 2390 चीनी वीज़ा - पैकेज की लागत में शामिल
तिब्बत प्रवेश पत्र - पैकेज की लागत में शामिल
नेपाल वीज़ा - USD 40* as off now
यात्रा बीमा - उम्र के अनुसार अतिरिक्त
USA पासपोर्ट धारक USD 2490 चीनी वीज़ा - पैकेज की लागत में शामिल
तिब्बत प्रवेश पत्र - Included in package cost
नेपाल वीज़ा - USD 40* as off now
यात्रा बीमा - उम्र के अनुसार अतिरिक्त
यात्रा खर्च - काठमांडू से बस द्वारा कैलाश मानसरोवर

INR 135,000

Other Charges
Chinese Visa - Included in package cost
Tibet Permit - Included in package cost
Nepal Visa - Not required
Travel Insurance - Extra as per age

USD 2390

Other Charges
Chinese Visa - Included in package cost
Tibet Permit - Included in package cost
Nepal Visa – USD 40* as off now
Travel Insurance - Extra as per age

USD 2490

Other Charges
Chinese Visa - Included in package cost
Tibet Permit - Included in package cost
Nepal Visa - USD 40* as off now
Travel Insurance - Extra as per age



2020 यात्रा प्लान - काठमांडू से बस द्वारा
यात्रा महीने यात्रा प्रारम्भ यात्रा समाप्ति टिप्पणियों सुझाव और प्रश्न
मई'2020 30th मई 12th जून पूर्णिमा बुकिंग का अनुरोध करें
जून'2020 03th जून 16th जून   बुकिंग का अनुरोध करें
  10th जून 23th जून   बुकिंग का अनुरोध करें
  17th जून 30th जून   बुकिंग का अनुरोध करें
  24th जून 07th जुलाई   बुकिंग का अनुरोध करें
  30th June 13th जुलाई पूर्णिमा बुकिंग का अनुरोध करें
जुलाई'2020 08th June 21th June   बुकिंग का अनुरोध करें
  15th जुलाई 28th जुलाई   बुकिंग का अनुरोध करें
  22th जुलाई 04th जुलाई   बुकिंग का अनुरोध करें
  28th जुलाई 10th अगस्त पूर्णिमा बुकिंग का अनुरोध करें
अगस्त'2020 05th अगस्त 18th अगस्त   बुकिंग का अनुरोध करें
  12th अगस्त 25th अगस्त   बुकिंग का अनुरोध करें
  19th अगस्त 01th सितम्बर   बुकिंग का अनुरोध करें
  27th अगस्त 09th सितम्बर पूर्णिमा बुकिंग का अनुरोध करें

व्यय समावेश - कैलाश मानसरोवर यात्रा

काठमांडू एयरपोर्ट से होटल और वापिस जाने की व्यवस्था,
पशुपतिनाथ मंदिर और जल नारायण मंदिर के दर्शन,
काठमांडू में 03 रात रुकने के लिए 3* होटल की साँझा व्यवस्था,
काठमांडू से चीन सीमा तक जाने और वापिस आने की व्यवस्था,
तिब्बत में रुकने के लिए गेस्ट हाउस की साँझा व्यवस्था,
यात्रा के दौरान सभी दिन शाकाहारी भोजन की व्यवस्था,
यात्रा के दौरान सामान ढोने के लिए वाहन,
इंग्लिश और हिंदी बोलने वाला नेपाली गाइड,
केरुंग से केरुंग इंग्लिश बोलने वाला चाइनीस गाइड की व्यवस्था,
यात्रा के लिए सभी आवश्यक परमिट,
कैलाश मानसरोवर जाने के लिए आवश्यक चीन का वीज़ा,
प्राथमिक चिकित्सा की व्यवस्था,
परिक्रमा के दौरान खाने पीने का सामान ढोने के लिए याक,
मैक्स हॉलीडेज की तरफ से यात्रा सामान ले जाने के लिए आवश्यक बैग,
डाउन जैकेट (इस्तेमाल के बाद वापिस करे जाने की शर्त पर),

घर से काठमांडू पहुंचने और वापिस जाने की फ्लाइट टिकट, नेपाल का वीज़ा (गैर भारतीय यात्रियों के लिए), इन्शुरन्स ( यात्रा एवं स्वस्थ्य बीमा) यात्रा में देरी अथवा किसी प्रकार के परिवर्तन से आने वाले होटल, खाने, गाडी इत्यादि का खर्च, आपातकालीन स्थिति में आने वाला किसी भी प्रकार का खर्च, 5% भारत सर्कार का कर (टैक्स ), इसके इलावा कोई भी ऐसी सर्विस या वस्तु जो हमारे ऊपर लिखे याता खर्च समन्वय का हिस्सा नहीं है वह हमारी जिम्मेदारी नहीं है I



यात्रा चित्र एवं मानचित्र